19 जून, 2009

रूमटेक के बौद्धभिक्षु


1 टिप्पणी:

राकेश ने कहा…

तस्‍वीर ही दिखाएंगे मित्र या कुछ पढ़ने का सुयोग भी प्राप्‍त करवाएंगे. बहुत ईर्ष्‍या हो रही है आपसे:) हम सोचते रहे और आप हो भी आए. बहुत बढिया. कुछ लिखिए भी.